उत्तराखण्ड

रेलवे द्वारा लालकुआं में अचानक अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू करने एवं 7 दिन के भीतर हटाने का अल्टीमेटम देने पर हुआ बवाल………….…. . . देखें एक्सक्लूसिव वीडियो……………

लालकुआं। रेलवे द्वारा अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू करने से जहां क्षेत्र में हड़कंप मच गया है, आज पुलिस प्रशासन के साथ रेलवे विभाग की टीम ने बंगाली कॉलोनी क्षेत्र में जाकर नपाई शुरू कर दी है, रेलवे अब स्टेशन के विस्तारीकरण कारण को लेकर दर्जनों पक्के मकानों को तोड़ने की कार्रवाई में जुट गया है,

तहसीलदार लालकुआं कोतवाल लालकुआं के साथ सैकड़ो की संख्या में बंगाली कॉलोनी पहुंचे रेलवे के कर्मचारियों ने जैसे ही वहां बने पक्के मकानों की नपाई तथा नोटिस बांटने की कार्यवाही शुरू की तो कॉलोनी वासियो में हड़कंप मच गया, आक्रोशित लोग रेलवे अधिकारियों पर बिफर पड़े, उनका कहना था कि 50 से अधिक वर्षों से वह लोग कॉलोनी में निवास कर रहे हैं साथ ही रेलवे द्वारा पूर्व में अपनी चाहर दीवारी बनाकर डिमार्केशन भी कर दिया है, इसके बावजूद पुनः मकान को तोड़ने की कार्रवाई करना पूरी तरह अनुचित और गैर कानूनी है, क्षेत्रवासियों ने आरोप लगाया कि जिस भूमि की रेलवे द्वारा माप जोक की जा रही है वह रेलवे की है ही नहीं।

यह भी पढ़ें 👉  एनटीए के खिलाफ एकजुट हुए छात्र:- राष्ट्रपति के नाम प्रेषित ज्ञापन सौंपा कुमाऊं कमिश्नर को.............. 14 सूत्रीय मांग पत्र में यह दी दो टूक चेतावनी.............. देखें वीडियो................


इस अवसर पर तहसीलदार मनीषा बिष्ट कोतवाल डीआर वर्मा सहित रेलवे के कई अधिकारी मौजूद थे।

To Top